Bandish Bandits (2020) Web-Series Review: – Shreya Chaudhary, Ritwik Bhowmik, Naseeruddin Shah Amritpal Singh Bindra and Anand Tiwari.


बॉलीवुड याने की हिंदी फिल्म और म्यूजिक का साथ कुछ ऐसा है जैसे शोले के जय और बीरू मतलब आप चाह के भी दोनों को अलग नहीं कर सकते, लेकिन एक सच्चाई यह भी है की दो चार फिल्मो को छोड़ दिया जाये तो इसी बॉलीवुड ने आज तक हम लोगो को म्यूजिकल फिल्म के नाम पर कुछ भी चिपकाया हैं, यह बात आपको तब समझ आएगी जब आप हाल ही में आई वेबसीरीज़ ‘बंदिश बैंडिट्स” देखोंगे.

edited

 

नमस्ते दोस्तों,

चलिए शुरू करते हैं एक रियल म्यूसिकल वेबसीरीज़ ‘बंदिश बैंडिट्स” के रिव्यु से.

राजस्थान के रंग में रंगी इस म्यूसिकल की कहानी दूसरी वेब सीरीज से बिलकुल हटकर है,यह कहानी है उस घर की जिसके के मुखिया हैं संगीत सम्राट पंडितजी (नसीरुद्दीन शाह)।

बरसो पहले बेटो के नाकाबिलियत से ऊब चुके पंडितजी इस ढलती उम्र में भी अपने इस सम्मान और संगीत घराने के सही वारिस की तलाश हैं, पोता राधे काबिलियत रखते हुए भी उनका उत्तराधिकारी तो दूर शिष्य बनने के लिए स्ट्रगल करते नजर आता है.

घर हे अन्य तीन सदस्य राधे के मा,बाप और चाचा भी अपनी अपनी कहानी लिए जी रहे होते हैं जिसका खुलासा कहानी आगे बढ़ने के साथ होता है.

फिर एक दिन राधे की जिंदगी में सोशल-मीडिया सिंगर तम्मना की एंट्री होती है और तब से राधे के जिंदगी शास्त्रीय संगीत की विणा और इलेक्ट्रिक गिटार के तारो जैसी बजती जाती है. 🙂

मराठी सिनेमा के मंझे हुए कलाकार अतुल कुलकर्णी की एंट्री कहानी के खलनायक के रूप में होती है जो नसीरुद्दीन शाह की एक्टिंग को पूरी तरह कॉम्प्लीमेंट करती है.

शंकर एहसान लॉय का संगीत कमाल का हैं जो सही मायने में इस म्यूजिकल को बांधे रखता है.

गंडा-बंधन, ठुमरी, आलाप और ऐसे ही कितने संगीतमय शब्दों से पहचान कराती 10 एपिसोड वाली यह म्यूजिकल जर्नी अपने आप में एक कम्प्लीट पैकेज है.

दोस्तों, समय मिले तो “बंदिश बैंडिट्स”जरुर देखें.

थैंक्यू.